dna full form dna full form in hindi dna full form in medical dna full form pronunciation dna full form in english dna full form in biology dna full form speak dna full form in computer dna full form in science dna full form and pronunciation dna full form and rna full form dna full form audio dna full form and meaning dna full form in assamese dna full form in hindi and english dna full form of dna atgc dna full form,dna in hindi dna in hindi meaning dna in hindi pdf download dna in hindi wikipedia dna in hindi video dna in hindi and english dna fingerprinting in hindi dna replication in hindi dna test in hindi dna hindi arth dna full form in hindi and english dna ka hindi arth dna analysis hindi about dna in hindi dna activation in hindi dna and rna in hindi dna bio hindi b dna in hindi dna barcoding in hindi bts dna in hindi bodhidharma dna in hindi dna biology in hindi dna definition biology in hindi dna profiling bill in hindi DNA FULL FORM

DNA Full Form क्या है ?DNA IN HINDI

DNA full form in Hindi

dna kya hai :-आज हम बात करेंगे DNA के बारे में और जानेगे की DNA क्या होता है और DNA full form in hindi क्या होती है, तो दोस्तो चलिए विधिवत रूप से जानते है DNA के बारे में। DNA को डीआक्सीराइबो न्यूक्लिक एसिड भी कहा जाता है 

और यदि हम साधारण भाषा मे डीएनए क्या है यह जानने की कोशिश करे तो “सभी जीवित कोशिकाओं के गुणसूत्रो में पाए जाने वाले अणु को हम डीएनए DNA या फिर डीआक्सीराइबो न्यूक्लिक एसिड कहते है।

DNA Full Form

DNA ka full form डीआक्सीराइबो न्यूक्लिक एसिड (Deoxyribonucleic acid) होता है। जोकि एक अम्ल होता है और DNA प्रत्येक जीव में मौजूद होता है। वाटसन और क्रिक ने अनुसार- DNA अणु के रूप में एक घुमावदार सीढी जैसे दिखते है 

और यह वलयक शर्करा व फॉस्फेट की इकाइयों से बने होते है जोकि सीढी के दो स्तम्भ बनाते है। और क्षार सीढी के डंडे बनाते है।

डीएनए की आकृती रेखाकार तथा वृत्ताकार होती है। सभी यूकैरियोटिक जीवो के केन्द्रक में रेखाकार डीएनए होता है। इसके अलावा वैक्टीरियोफेज डीएनए तथा कुछ वायरसों में डीएनए वृत्ताकर होता है। इसके अलावा यूकैरियोटिक कोशिकाओ के माईटोकन्द्रिया तथा प्लास्टिडस में पाया जाने वाला DNA वृत्ताकार होता है। 

DNA(डीएनए) की खोज किसने की ?

सन 1953 में वाटसन और क्रिक ( Watson and Crick ) ने DNA को सबके सामने प्रस्तुत किया तो यह भी कहा जा सकता है वाटसन और क्रिक ने ही DNA की खोज की। इसके लिए इन्हें 1962 में नोबल पुरस्कार भी दिया गया।

“वाटसन और क्रिक ने x- किरण विवर्तन के अध्ययन से डीएनए DNA अणु की त्रिविमीय संरचना प्रस्तुत की। वाटसन और क्रिक से पहले 1950 में इर्विन शरगैफ ( Erwin Chargaff ) ने भी DNA की संरचना बताई और इर्विन शरगैफ के नियम को शरगैफ का नियम कहा जाता है। 

DNA(डीएनए) का कार्य क्या है –  Function of deoxyribonucleic acid

दोस्तो डीएनए हमारे शरीर मे मौजूद रहता है और इसका सबसे महत्वपूर्ण कार्य होता है एक पीढ़ी के लक्षणों को दूसरी पीढी के व्यक्ति में भेजना। जैसे जब किसी बच्चे का जन्म होता है तो उसके अंदर उसके माता पिता के लक्षण स्वतः ही दिखाई देने लगते है। हम DNA के कार्य के बारे में जानेगे।

  1. डीएनए का कार्य है कि आनुवांशिक गुणों को एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी तब पहुचाये. ( पिता के लक्षण संतान तक ले जाता है)
  2. डीएनए एन्जाइमो के निर्माण को नियन्त्रित करता है। 
  3. डीएनए क्रोमेटिन जाल का अधिकांश भाग बनाते है। ( क्रोमेटिन जाल कोशिका के केद्रक में पाया जाता है।)
  4. डीएनए द्वारा ही जीवो में उत्परिवर्तन होते है। 
  5. डीएनए प्रोटीन संश्लेषण की सूचना mRNA द्वारा राइवोसोम में भेजता है। राइबोसोम में स्थित rRNA प्रोटीन निर्माण के स्थल की भूमिका अदा करता है। कोशिकाद्रव्य में उपस्थित tRNA, एमिनो अम्लो को श्रंखलाबद्ध करके राइबोसोम पर एकत्रिक करता है और प्रोटीन बनाता है। 

DNA Finger Printing क्या है ? DNA टेस्ट क्या होता है? 

मेडिकल साइंस में 1200 प्रकार के DNA Test होते है। इस प्रकार के टेस्ट को अपराधी को पकड़ने में या फिर उत्तराधिकारी साबित करने के लिए किया जाता है। किसी नवजात शिशु के डीएनए टेस्ट की मदद से हम किसी भी बीमारी का पता लगा सकते है।

डीएनए टेस्ट को करवाने के लिए आपको उस व्यक्ति के बाल, खून, लार, आदि किसी एक का सैम्पल लेना होता है। और फिर इस सैम्पल की जाच लैब हो होती है। 

दोस्तो, DNA Finger Printing का उपयोग तब किया जाता है जब किसी भी अपराधी व्यक्ति की पहचान करनी होती है । क्योंकि DNA Finger Printing का उपयोग करके अपराधी का आसानी से पता लगाया जा सकता है। डीएनए फिंगर प्रिंटिंग के द्वारा दुर्घटनाओं में मरने वालो की भी पहचान की जाती है। खोये हुए बच्चे या फिर माता पिता की पहचान भी डीएनए फिंगर प्रिंटिंग के द्वारा की जाती है।

” DNA का एंडोन्यूक्लीयेज एंजाम की सहायता से DNA खण्डों की मैचिंग कर के किसी भी व्यकि की पहचान की जा सकती है” क्योंकि DNA की सरचना विशिष्ट और सभी की अलग अलग होती है।

 DNA Finger Printing के द्वारा किसी भी बलात्कारी या अपराधी व्यक्ति की पहचान की जाती है। DNA Finger Printing की खोज एलेक्स जेफ्रीव (Alex Jeffery) व उनके सहयोगियों ने सन 1985 में कई थी। 

डीएनए फिंगरप्रिंट को डीएनए प्रोफाइलिंग अथवा डीएनए टाइपिंग भी कहते है। 

डीएनए दो प्रकार का होता है

  1. Bulk DNA
  2. Satellite DNA.

बल्क डीएनए को हम कोडिंग डीएनए के नाम से भी जानते है। और Satellite को नान कोडिंग डीएनए के नाम से जानते है। Bulk DNA जोकि 99.9 प्रतिशत पाया जाता है।

DNA कैसे बना है – DNA ka full form

दोस्तो DNA तीन घटक अणुओ से मिलकर बनता है( 1. डीआक्सीराइबो शर्करा,2. नाइट्रोजनी क्षार, 3. फस्फोट समूह ) DNA डीएनए इन तीनो अणुओ का एक सयुक्त अणु होता है। 

निष्कर्ष – उम्मीद है आपको कुछ सीखने को मिला होगा, इस आर्टिकल में हमने DNA पर संक्षिप्त में जानकारी प्राप्त की और जाना कि DNA full form क्या होती है। यदि आपका कोई प्रश्न है DNA या इस पोस्ट से रिलेटेड यो आप हमें कमेंट कर के जरूर बताएं और यह जानकारी आपको कैसे लगी यह भी जरूर बताएं।

1 thought on “DNA Full Form क्या है ?DNA IN HINDI”

Leave a Reply

%d bloggers like this: