namaz ki rakat table in hindi isha namaz rakat, namaz rakat table, jumma namaz rakat, maghrib namaz rakat, asar namaz rakat, magrib namaz rakat, tahajjud namaz rakat, namaz rakat chart, zohar namaz rakat, namaz rakat table in hindi,isha ki namaz ki rakat

Rakat NAMAZ की table and chart || FAZR,ZOHAR,ASAR,MAGHRIB,ISHA नमाज़ रकात

Read Time:7 Minute, 38 Second

NAMAZ RAKATS TABLE IN HINDI pdf

rakat table and chart in hindi 5 time,अभी रमजान का महीना चल रहा है और नए लोगों को प्रॉब्लम होती है की उन्हें NAMAZ KI RAKAT के बारे में ज्यादा पता नहीं होता है। बहुत से लोग इस महीने में रोजे के साथ-साथ पांच वक़्त की नमाज पड़ते है और उनकी सबसे बड़ी मुसीबत है नमाज़ की रकत के बारे में पता नहीं होना। आज के इस पोस्ट में हम लोग इसी टॉपिक पर बात करेंगे। में आपको NAMAZ KI RAKATS की पूरी TABLE दूंगा जो आपको आगे से नमाज़ पड़ने में लाभकारी होंगी। निचे मैंने सभी पांच वक़्त की नमाजों और जुमे की नमाज के लिए RAKAT को विस्तार से समझाने का प्रयास किया है –
फ़र्ज़ है की सभी मुसलमान पांच वक़्त की नमाज़ पढ़ें जो क्रमश: फज्र,जोहर,असर,मगरिब और ईशा हैं। इन नमाजों में अलग अलग नमाज़ रकात होती हैं।

FAJR/fazr ki NAMAZ RAKAT

फज्र की नमाज सुबह होने से पहले पढ़ी जाती है। इस नमाज मैं कुल मिलाकर 4 RAKAT होती है। जिनमे 2 RAKAT  सुन्नत और 2 रकत फ़र्ज़ होती हैं। फ़र्ज़ रकात वो होती हैं जिन्हे पढ़ना हर मुसलमान पर फ़र्ज़ होता है। 

 ZOHAR KI NAMAZ KI RAKAT

 ZOHAR की NAMAZ फज़्र की नमाज के बाद वाली नमाज़ होती है। यह लगभग दोपहर मे अदा की जाती है। ZOHAR KI NAMAZ मैं कुल मिलकर 12 RAKAT होती हैं। जिनमे सबसे पहले 4 RAKAT सुन्नत पढ़ी जाती हैं इसके बाद 4 RAKAT फ़र्ज़ पढ़े जाते हैं इसके बाद फिर से 2 रकात सुन्नत पढ़ी जाती हैं  और सबसे अंत मैं 2 रकात नफ़्ल पढ़ी जाती हैं। 

ASAR NAMAZ RAKAT

ZUHR की नमाज़ के बाद ASAR की नमाज़ पढ़ी जाती है जो दोपहर के बाद पढ़ी जाती है। ASAR  की नमाज़ मैं कुल 8 RAKAT होती हैं। जिनमे 4 रकात सुन्नत और 4 रकात फ़र्ज़ होती हैं, इसमें पढ़ी जाने वाली 4 RAKAT सुन्नत गैर मोकीदा होती हैं मतलब है की अगर आपके पास वक़्त है तो पढ़ ले और अगर नहीं भी पड़ते हैं तो आपकी नमाज़ हो जाती है। 

MAGRIB NAMAZ RAKAT

MAGRIB की नमाज़ में सबसे पहले तीन RAKAT फ़र्ज़ अदा किये जाते हैं उसके बाद 2 RAKAT सुन्नत पढ़ी जाती हैं और इन सबके बाद में 2 RAKAT  नफ़्ल पढ़ी जाती हैं। यह नमाज़ असर की NAMAZ के बाद में पढ़ी जाती है। 

ISHA KI NAMAZ RAKAT

ISHA की NAMAZ दिन की अंतिम नमाज़ होती है इस नमाज़ में कुल 17 RAKAT पढ़ी जाती हैं। सबसे पहले 4 रकात सुन्नत अदा की जाती हैं इसके बाद 4 RAKAT फ़र्ज़ पढ़े जाते हैं इसके बाद 2 रकात सुन्नत फिर 2 रकात नफ़्ल पढ़ी जाती हैं। सबसे ख़ास है WITR की RAKAT पड़ना।, ईशा की नमाज में  3 रकात वित्र वाजिब पढ़े जाते हैं। सबसे अंत में 2 रकात नफ़्ल पढ़ी जाती हैं। 

questions

ईशा की नमाज़ कब पढ़ी जाती है?

ईशा की नमाज़ रात को पढ़ी जाती है  यह मगरिब की नमाज़ के बाद वाली नमाज़ होती है।

ईशा की नमाज़ में कितनी रकअत होती हैं?

ईशा की नमाज़ में कुल 17 rakat होती हैं जिनमे 6 सुन्नत ,4 फ़र्ज़ ,3 वित्र और 4 नफ़्ल होती हैं।

ईशा की नमाज़ में कितने फ़र्ज़  हैं?

ईशा की नमाज़ में 4 फ़र्ज़ रकात होती हैं।

क्या ईशा की नमाज़ 12 P.M. के बाद पढ़ी जा सकती है?

नहीं ईशा की नमाज़ का वक़्त 12 बजे के बाद नहीं होता है हालाँकि बेहतर है की 11:30 से पहले ही नमाज़ पढ़ लें।

wuju-aur-gusl-ke-farz-aur-sunnat-in-hindi

WITR KI NAMAZ कैसे पढ़ें ?

WITR की NAMAZ कैसे पढ़ें , WITR की NAMAZ में तीन रकात पढ़ी जाती हैं। WITR की NAMAZ की नियत इस प्रकार है –
WITR की NAMAZ की नियत इन हिंदी
“मैं नियत करता हूँ 3 रकात नमाज इत्र वाजिब वास्ते अल्लाह तआला के मुँह मेरा काबा शरीफ की तरफ वक़्त है ईशा का “

इस तरह से नियत करने के बाद सना पढ़े और आम नमाजों की तरह दो रकअतें पूरी करें और तीसरी RAKAT  के लिए खड़े होने के बाद पहले की तरह सुर: फातिहा पढ़कर कोई एक आयत पढ़े और अपने हाथों को कानों तक उठा कर फिर से नियत बांधे और “दुआ ए क़ुनूत” पढ़ें  और रुकू में चले जाएँ फिर 2 बार सजदा करें और आम नमाजों की तरह पढ़कर सलाम फेर लें। 

DUA E QUNOOT(दुआ ए क़ुनूत)IN HINDI 

अल्लाहुम्मा इन्ना नस्तईनु क
व नस-तग-फिरू- क
व नुअ मिनु बि-क व न तवक्कलु
अलै-क व नुस्नी अलैकल खैर ०
व नश कुरु-क वला नकफुरु-के
व नख्लऊ व नतरुकु मैंय्यफ-जुरूक ०
अल्लाहुम्मा इय्या का न अ बुदु
व ल-क- नुसल्ली व नैस्जुदु
व इलै-क नस्आ व नह-फिदु व नरजू
रह-म-त-क व नख्शा अजा-ब-क
इन्ना अजा-ब-क विल कुफ्फारि मुलहिक

नोट:-अगर किसी को दुआ ए क़ुनूत नहीं आती है  ये दुआ पढ़ सकता है 

रब्बना तिना फ़िद्दुनिया हसनतवँ वा फील आख़िरति हसनतवँ  वा किन्नाअजाबन्नार

ZUMMA KI NAMAZ KI RAKAT IN HINDI 

जुमे की नमाज़ और जोहर की नमाज़ को मिलकर कुल 14 RAKAT अदा की जाती हैं। जिनमे  सबसे पहले 4 रकात सुन्नत पढ़ी जाती हैं इसके बाद मौलवी खुत्बा पढता है और 2 RAKAT फ़र्ज़ पढ़ाता है। ऐसा करने के बाद हम फिर से 4 रकात सुन्नत पढ़ते हैं और फिर से 2 रकात सुन्नत नमाज़ की नियत करते हैं। सबसे अंत में 2 RAKAT नफ़्ल पढ़ी जाती है। 

नमाज़ को मुकम्मल करने के लिए  हमे नमाज़ को सीखना चाहिए। अगर हमे नमाज़ नहीं आती है तो हम 40 दिन तक जैसे भी आये नमाज़ पढ़ सकते हैं परन्तु लाजिम है की इन दिनों में हम नमाज़ को सीख लें।नमाज़ को पढ़ने के लिए कम से कम सना ,सुर : फातिहा ,कोई 4 आयत ,दुरुद सरीफ और कुछ दुआ आनी चाहिए जिनके लिए हम आपको दूसरी पोस्ट उपलब्ध करवाएंगे।अगर अल्लाह ने चाहा तो आप जल्द ही नमाज़ को मुकम्मल कर पाएंगे।हम आपकी दुआ के मुन्तजिर रहेंगे।

मुझे उम्मीद है की मैंने जो NAMAZ KI RAKAT IN HINDI  के बारे में ऊपर बताया है वो जानकारी आपकी नमाज़ मुकम्मल करने मई मदद करेगी। अगर आपको कोई परेशानी हो तो मुझे कमेंट करें। 
Happy
Happy
6
Sad
Sad
1
Excited
Excited
1
Sleepy
Sleepy
0
Angry
Angry
0
Surprise
Surprise
0
4.8/5 - (12 votes)

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

2 thoughts on “Rakat NAMAZ की table and chart || FAZR,ZOHAR,ASAR,MAGHRIB,ISHA नमाज़ रकात

Leave a Reply