optimize meaning in hindi

seo kya hai optimize meaning in hindi कैसे करते हैं, हर कोई चाहता है की उसकी पोस्ट गूगल की first page पर रैंक हो और यही कारण है की हम सर्च करते है पोस्ट रैंक कैसे करवाएं या seo कैसे करें ।

google पर compition  जयादा होने के कारण पोस्ट को रैंक करवाना मुश्किल होता जा रहा है ।

post rank  लिए सही seo बहुत जरुरी  है , इस पोस्ट में हम चर्चा करेंगे की सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन क्या है,what is  seo in hindi ,on page seo क्या है ,off page  क्या है तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़े।

seo kya hai ?(search engine optimization hindi)

seo का मतलब है पोस्ट या आर्टिकल को गूगल और गूगल पर आने वाले visitors के अनुकूल बनाना मतलब है की वो पोस्ट रीडर को पढ़ने में आसान लगे,attrective होनी चाहिए ।google में सर्च करने पर जल्दी आने के लिए images इत्यादि को सही तरीके से optimize  गया होना चाहिए । seo  एक ऐसा तरीका है जिससे हम अपनी साइट को गूगल पर रैंक करवा सकते हैं ।

जैसे हम किसी कीवर्ड को गूगल में सर्च करते है तो जो top 10 sites  गूगल दिखाता है उन पर जयादा ट्रैफिक होता है और उनमे भी जो साइट पहले number पर होती है उस पर उस कीवर्ड के लिए बहुत जयादा ट्रैफिक होता है।

full form of seo

"search engine optimization "( सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन )

(search इंजन क्या है )what  is  search  engine in  hindi ?

सर्च इंजन एक ऐसा टूल होता है जो हमे किसी भी keyword  सर्च करने पर उससे सम्बंधित results  करते है । दुनिया में किसी भी टॉपिक , जगह और भी कई महत्वपूर्ण चीजों को हम सिर्फ एक सर्च से देख सकते हैं और इस काम में हमारी मदद करता है एक सर्च इंजन ।

सर्च इंजन के examples

ये सभी सर्च पॉपुलर सर्च इंजन है जो पूरी दुनिया में सर्च के लिए उसे किये जाते हैं । गूगल एक सर्च इंजन है जैसे हम google  पर सर्च करते हैं की “what  is  google ” तो गूगल हमे इससे जुड़े results दिखाता है जैसा की निचे इमेज में दिखाई दे रहा है ।

seo kya hai in hindi ,what is search engine,on page seo off page seo,
what is search engine

learn seo in hindi

सामान्यतया हर ब्लॉगर चाहता है की उसके साइट पर ट्रैफिक आये जिससे उसके cpc बढे । और इसीलिए वो सर्च करते है की साइट या पोस्ट गूगल पर रैंक कैसे कराएं और इसका जवाब है seo करना । किसी भी कीवर्ड पर साइट को गूगल पर रैंक करवाने के लिए आपको quality  content  साथ साथ सही seo  भी जरुरी होता है ।

seo एक ऐसा तरीका है जो गूगल या किसी भी सर्च इंजन के अल्गोरिद्म पर काम करता है। आपके ब्लॉग को उस सर्च इंजन के अनुरूप बनाने में आपकी मदद करता है । वैसे तो सो को सही तरीके से कोई नहीं समझ पाया है।और सर्च इंजन के fundamentals समय के साथ साथ बदलते रहते हैं । पहले कॉम्पिटिशन काम होने के कारण कुछ भी लिखने पर रैंक हो जाता था परन्तु अब ऐसा नहीं है अब सही seo और quality content वाली पोस्ट ही रैंक होती है ।

types of seo

seo दो प्रकार का होता है एक होता है on  page  seo और दूसरा off page seo होता है। निचे हम on  page  seo techniques और off page seo techniques के बारे में विस्तार से पढ़ेंगे ।

types of seo ,on page seo ,off page seo ,on off pge seo techniques इन hindi
types of seo in hindi

on page seo in hindi 

on page seo वह होता है जो हम किसी भी साइट को customize करते वक़्त और पोस्ट को लिखते वक़्त करते है । किसी भी पोस्ट को रैंक करवाने के लिए on  page seo करना बहुत ही आवश्यक है । इसमें headings , meta  description ,title etc .. शामिल होते हैं ।

on page seo techniques

निचे हम on page seo technique और उन facts  बारे में पढ़ेंगे जिनके आधार पर on page seo check किया  जाता है ।

blog-kaise-banaye-step-by-step-in-hindi
blogspot-template-responsive-free-amp-ads-ready
कंटेंट 

seo का सबसे बेहतरीन फैक्ट कंटेंट है जब तक हमारा कंटेंट quality  और leanth  नहीं रखता हमारी साइट या पोस्ट का रैंक कर पाना मुश्किल है । क्वालिटी कंटेंट लिखने के लिए जो तरीके आजमाते हैं वो निचे सही तरीके से मैंने समझने की कोशिश की है ।

  • title tag:- किसी भी साइट का टाइटल टैग जब हम उस साइट को browser  में ओपन करते है तो वो ऊपर tab में,bookmark में और search  result  pages  में दिखता है।जैसे मेरी साइट को जब आप browser में ओपन करते हैं तो उसके tab  आपको दिखाई देता है “three  qubes -blogging और technology सीखें हिंदी में ” । किसी भी साइट का title tag लगभग 65 characters  का होना चाहिए ।
  • meta description:-site का meta description गूगल को यह बताता है की आपकी साइट किस बारे में है और किस तरह से manage की गई है । meta  description  site preview में दिखाई देता है ।site का meta description  70-165 शब्दों का या 600-940 pixel  होना चाहिए । meta description में ब्लॉग के most keywords  डालना चाहिए ।

  • google preview :- google preview या ब्राउज़र preview वो होता है जो किसी साइट को ओपन करने पर इंटरफ़ेस हमे दिखाई देता है इसको समझने के लिए मैने निचे फोटो दिखाई है ।
google preview फॉर साइट seo इन हिंदी ,what is seo kya है इन hindi ,ऑन ऑफ page seo
  1.  
  • headings :-सही  तरीके से h1-h6 तक headings  का उसे करें headings में कीवर्ड्स का अच्छे से उसे करे ताकि seo score increase हो सके। सभी पेज और पोस्ट में h1 टैग होना जरुरी है।
  • alt tags and description :-सभी images सही साइज की manage की गई हो साथ ही हो सभी image  में alt tag और description होना चाहिए ।alt tags और description में keywords  का इस्तेमाल करना सही है ।इसके अलावा caption भी होना चाहिए ।
  • in page links :-पेज में या पोस्ट में external links का उसे करें ये लिंक dofollow links और nofollow links का मिश्रण होनी चाहिए ।साथ ही internal links भी add करना चाहिए ताकि visitor आपकी साइट पर कई देर तक रुका रहे ।कोई भी आपके ब्लॉग पर जितनी जयादा time  रहेगा आपके ब्लॉग के लिए उतना ही बेहतर है ।
  • lenguage :-आपके ब्लॉग की भाषा सेटअप सही करें ताकि adsense approval में कोई paroblem न हो ।
indexing

किसी भी साइट को गूगल मैं index करवाना बहुत जरुरी है वरना आपकी साइट गूगल पर रैंक नहीं करेगी हालाँकि पुराणी साइट होने पर गूगल ऑटोमेटिक crawel  कर लेता है ।इसके लिए गूगल या किसी भी browser jisme आप साइट या ब्लॉग को इंडेक्स करना  हैं आपको sitemap सबमिट करना होगा। ऐसी बेहतरीन टिप्स आपको सिखाएंगी की seo kya hai

  • xml sitemap – आपको इस तरह का साइट मैप सबमिट करना होगा जो की मैंने निचे दिखाया है ये सिर्फ वर्डप्रेस के लिए है
https://threequbes.com/sitemap_index.xml

blogger  में https://threequbes.com/sitemap.xml  जैसा sitemap url submit करना  है ।इससे webmaster tool पता लगा लेता है की आपकी साइट पर कितने पोस्ट और पेज हैं ।

  • url :-यूआरएल सही tarike से optimized होना चाहिए ।आपकी पोस्ट का permalink 59 letter से जयादा का नहीं होना चाहिए साथ ही इसमें numeric letter का use करें ।इसके अलावा इम्पोर्टेन्ट वर्ड्स जैसे best ,top etc … का use करना भी बेहतर होता है ।
  • broken links :-ब्लॉग में broken link नहीं होनी चाहिए। error 404 पेज बना कर रखें ।
mobile friendly :-

मोबाइल friendly बनाने के लिए मोबाइल version में किसी pop up plugin का use  न करें तो बेहतर है ।पोस्ट या पेज को AMP version में  करें ताकि साइट की स्पीड जयादा हो और loading टाइम भी काम रहे ।font  को मोबाइल यूजर के हिसाब से optimized रखें ।

security:-

साइट में हमेशा SSL use करें क्योंकि http  बजाय https  को गूगल जल्दी index  करता है ।

server:-

साइट की hosting  uptime लगभग 100% होना चाहिए अगर अपटाइम कम है तो साइट को गूगल इंडेक्स नहीं करेगा और अगर इंडेक्स हो भी गयी तो वो बहुत जल्दी निचे आ जाएगी । इसलिए जरुरी है की आपकी hosting में full uptime और high bandwidth होना चाहिए ।

google analytics in hindi :-
google analytics in hindi,Google Analytics क्या है और कैसे Setup करें ?
google analytics in hindi

साइट को गूगल analytics और गूगल सर्च कंसोल (google search console) में सबमिट करना चाहिए ताकि गूगल को आपकी साइट के बारे में पता रहे  analytics आपको आपके traffic  के बारे में पूरी जानकारी देगा ।

domain :-

बेहतर है की आप एक टॉप लेवल डोमेन(TLD) खरीद लें इससे आपकी साइट जल्दी रैंक होती है और ऐडसेंस अप्रूवल भी जल्दी मिलता है। domain खरिदते वक़्त कीवर्ड को धयान में तखन जिस पर आप साइट बनाने जा रहे हैं।

off page seo in hindi

ऐसा seo जो हम साइट के customization से बाहर करते है या वह seo जो हम अपनी पोस्ट या पेज बनाने के बाद उसे रैंक करवाने के लिए करते हैं off page seo  कहलाता है ।

off page seo techniques

यहाँ हम off page seo तकनीक के बारे में विस्तार से पढ़ेंगे । सभी seo फैक्ट्स को मैंने विस्तार से समझने की कोशिश की है ।

  • backlink and referring domain :- साइट या ब्लॉग के अधिक से अधिक बैकलिंक्स बनाने की कोशिश करें ।backlink दो तरह की होती है dofollow और nofollow हमे दोनों तरह की बैकलिंक को mix करके रखना चाहिए । बैकलिंक्स उन साइट्स से बनाये जिनका domain rating जयादा हो और spam score कम हो ।जितनी ज्यादा referring domain  होगी उतनी ज्यादा हमारे ब्लॉग की domain rating और page rating होगी और जिस साइट का domain score ज्यादा होता है वो जल्दी रैंक करता है ।backlink उन्ही साइट से बनाने की कोशिश करें जो आपकी साइट के niche से match करती हो ।
  • social profiles :- सभी social media platforms पर अपनी ब्लॉग के पेज बनाये इससे website या blog  का search engine marketing in hindi स्कोर बढ़ता है। facebook ,linkedin ,instagram ,twitter के साथ ही कुछ और भी ऐसे प्लेटफार्म हैं जिन पर प्रोफाइल बनानी चाहिए जैसे dribble ,pinterest ,quora etc … ये सब भी साइट पर trafic लाने में मदद करती हैं ।हमेसा पोस्ट या आर्टिकल लिखने के बाद उसे facebook ,twitter और penterest पर शेयर करना चाहिए । ऐसा करने से ट्रैफिक भी आता है और marketing वैल्यू भी बढ़ती है।

मैंने threequbes के माध्यम  से आपको बेहतर seo tips देने की कोशिश की है जिनमे आप समझ गए होंगे की seo क्या है और on off page seo क्या है वो भी हिंदी में ।उम्मीद है की मेरी पोस्ट what is seo in hindi या seo kya hai search engine optimization कैसे करते हैं आपको sahi seo करने में help  करेगी ।आपको पोस्ट कैसी लगी कमेंट करके जरूर बताये ।